मेरा सिद्धांत

आदर्श मेरा वो नहीं, जो शीर्ष पर आसीन हो,
और अपने कर्म से, निष्कृय हो, उदासीन हो।
आदर्श मेरा निम्न स्तर का बशर होगा अगर,
कर्तव्य निष्ठा हो जिसे, निज स्वार्थ से विहीन हो।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *