आज के युवा लेखक और कवियों के बारे में कोई जानकारी भले ही न हो किन्तु आज कल हिन्दी के रचनाकारों की कमी है, वजह यह है कि आज का प्रतिभाशाली रचनाकार केवल फेसबुक तक सीमित रह गया है। वह अगर कुछ अदभुत लिखता भी है तो उसे पढने वाले कम ही होते हैं।

इस पहल में हमारा ये पहला प्रयास है कि ऐसे रचनाकारों को एक मंच प्रदान करें और साहित्य के इन नवांकुरों को उपयुक्त नाम और सम्मान दिया जाए।आप सभी से अनुरोध है कि हमारे इस प्रयास में अपना योगदान दें और अपने दोस्तों को भी हमारे साईट के बारे में ज़रूर बतायें।

नई रचनायें: